प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना

Print

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में 250 एवं इससे अधिक आबादी के सभी असंयोजित बसावटों को सर्वऋतु मार्गों से संयोजित किया जाना है। भारत निर्माण के अन्तर्गत पर्वतीय क्षेत्रों में 500 एवं इससे अधिक आबादी के सभी असंयोजित बसावटों को सड़क सम्पर्क से संयोजित किये जाने का लक्ष्य रखा गया है। पी0एम0जी0एस0वाई0 यद्यपि शत प्रतिशत केन्द्र पोषित कार्यक्रम है तथापि मार्गों के निर्माण हेतु नियोजन चरण में समरेखण में आने वाली निजी भूमि प्रतिकर, निजी सम्पत्ति प्रतिकर, वन भूमि प्रतिकर में क्षतिपूरक वृक्षारोपण, एन0पी0वी0 एवं 50 मी0 से अधिक स्पान के सेतुओं के निर्माण हेतु आनुपातिक व्यय राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाता है तथा मार्गों के पूर्ण होने के पश्चात् उनके अनुरक्षण पर होने वाला व्यय भी राज्य सरकार द्वारा ही वहन किया जाता है